सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

नवंबर, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Dard shayari in hindi - painful shayari, dard bhari shayari with photos

Dard Shayari in Hindi एक बात याद रखना सबसे ज्यादा अपमान अपनी पसंद के लोगों से ही मिलता है "दर्द शायरी हिंदी"   Ek baat Yad Rakhna sabse Jyada apman apni Pasand Ke Logon Se Hi Milta Hai"dard bhari shayari" किसी को मनाने से पहले यह जरूर जान लेना कि वह आपसे नाराज है या परेशान है "दर्द भरी शायरी" Dard shayari hindi Kisi ko manane se pahle yah Jarur Jaan Lena ki vah Apse naraj hai ya pareshan hai"dard shayari" Dard bhari shayari in hindi बार-बार अपमानित होने के बाद भी जो आप से जुड़ा रहे यह जरूरी नहीं कि वह निर्लज्ज है सच तो ये है की उसकी जिंदगी में आपका स्थान उसकी इज्जत से भी बढ़कर है "दर्द हिंदी शायरी" Bar Bar apmanit hone ke bad bhi Jo Aap Se Juda Rahe yah Jaruri Nahin Ki vah nirlaj Hai Sach to yah hai ki uski Jindagi Mein aapka Sthan uski Ijjat se bhi Badhkar hai"dard hindi shayari" जब किसी का दोगला चेहरा सामने आता है ना तो सच कहूं उस पर नहीं अपने आप पर गुस्सा आता है "दर्द भरी" Dard bhari shayari with image Jab Kisi Ka

Dard Bhari Shayari Best Of Dard Shayari Hindi - दर्द भरी शायरी हिंदी

Dard Bhari Shayari In Hindi, Best Of Dard Shayri Latest, Dard Ki Best Shayari Line Love Dard Bhari - दर्द भरी हिंदी शायरियां दुःख की शायरी Dard Ye-Dil पत्थर समझ कर पॉंव से ठोकर लगा दी अफसोस तेरी अंख ने परखा नहीं मुझे क्या क्या उमीदें बांध कर आया था सामने उसने तो आँख भर के देखा नहीं मुझे 😥 Dard Bhari Shayari 😥 Pathar Samajh Kar Paon Se Thokar Laga Di Afsosh Teri Ankh Ne Parkha Nahi Mujhe Kya Kya Umide Bandh Kar Aya Tha Samne Usne To Ankh Bhar Ke Dekha Nahi Mujhe एक नजर भी देखना गवारा नहीं उसे जरा सा भी एहसास हमारा नहीं उसे वो साहिल से देखते रहे डूबना हमारा हम भी खुद्दार थे पुकारा नही उसे 😢 Dard Shayari Hindi 😢 Ek Najar Bhi Dekhna Gawara Nahi Use Jara Sa Bhi Ehsas Hamara Nahi Use Vo Sahil Se Dekhte Rahe Dubna Hamara Ham Bhi Khuddar The Pukara Nahi Use काश वो समझते इस दिल की तड़प की तो हमे यू रुसवा न किया जाता यह बेरुखी भी उनकी मंजूर थीं हमें बस एक बार हमें समझ तो लिया होता Kash Vo Samjhte Is Dil Ki Tadap Ki To Hame Yu Rusva Na Kiya Jata Yah Berukhi Bhi Unki Manjur Thi Hame Bas Ek Bar